Bol Bindas || “तीन” मई तक “लॉक-डाउन”

0
540

मोदी ने सात बातों में साथ देने के लिए किया,आग्रह…..

विवेक चौबे, नई दिल्ली

 

नई दिल्ली : भारत के प्रधानमंत्री- नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को वैश्विक महामारी को लेकर देश वासियों को पुनः संबोधित किया। कहा कि सभी राज्यों से सुझाव मिलने के पश्चात अब तीन मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। कहा की 20 अप्रैल तक प्रत्येक कस्बे,थाने, जिले व राज्य को परखा जाएगा की लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है। इसके लिए बुधवार को सरकार की ओर से आवश्यक गाइडलाइन भी जारी की जाएगी। कोरोना के विरुद्ध लड़ाई में कठोरता व सख्ती भी बढ़ाई जाएगी। इस दौरान यह देखा जाएगा की किस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है। जिन क्षेत्रों में हॉटस्पॉट नहीं होंगे व जिनके हॉटस्पॉट में बदलने की आशंका भी कम होगी, वहां पर 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है,किन्तु अगर हॉटस्पॉट में बढ़ोतरी होती है तो यह अनुमति वापस भी ली जा सकती है। प्रधानमंत्री- मोदी ने कहा की केंद्र सरकार व राज्य सरकारें मिलकर प्रयत्न कर रही हैं कि किसानों को कोई दिक्कत न हो। वहीं उन्होंने भारत के युवा वैज्ञानिकों से विशेष आग्रह करते हुए कहा है कि विश्व कल्याण के लिए व मानव कल्याण के लिए आगे आएं। कोरोना की वैक्सीन बनाने का जल्द ही बीड़ा उठाएं। साथ ही देश वासियों को कहा कि हम धैर्य बनाकर रखेंगे। नियमों का पालन सख्ती से करेंगे तो कोरोना वायरस जैसी महामारी को परास्त कर पाएंगे।

उन्होंने सात बातों में देश के नागरिकों से साथ देने का आग्रह किया है…..

1. अपने घर के बुजुर्गों का पूरा ध्यान रखें। 2. लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन करें। घर में बने फेसकवर या मास्क का इश्तेमाल अवश्य करें। 3. अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए, आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें। गर्म पानी व काढ़ा का लगातार सेवन करें। 4. कोरोना संक्रमण का विस्तार रोकने में सहयोग करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप्प अवश्य डाउनलोड करें। दूसरों को भी इस एप्प को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें। 5. अधिक से अधिक निर्धन परिवार की देखरेख करें,उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें। 6. आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम करे लोगों के प्रति संवेदना रखें,किसी को नौकरी से न निकालें। 7. देश के कोरोना योद्धाओं,हमारे डॉक्टर- नर्सेस,सफाई कर्मी-पुलिसकर्मी का पूर्ण रूप से सम्मान करें।

Please follow and like us: