Bol Bindas || “अनुपालन”

0
265

यहां किया गया,लॉक डाउन का अनुपालन…..

क्या होगी,अनुपालन पर कार्यवाई…..?

सोशल डिस्टनसिंग का भी नहीं रखा गया,ध्यान…..

विवेक चौबे,गढ़वा

 

गढ़वा : कोरोना वायरस से उत्पन्न महामारी को लेकर 144 धारा के साथ लॉक डाउन है। केंद्र सरकार,राज्य सरकार सहित पदाधिकारीगण ने भी हिदायत दी है कि सरकार के निर्देश व लॉक डाउन का पालन सभी लोग करें। घर से बाहर न निकलें,न ही भीड़ इकठ्ठा होने दें। साथ ही सोशल डिस्टेंस बनाए रखने के लिए भी लगातार जानकारी दी जा रही है। यदि लॉक डाउन का अनुपालन किया गया तो कार्यवाई होना भी तय है,किन्तु यहां का नजारा देखने से पता चलता है कि सरकार के निर्देश व लॉक डाउन का पालन कितना किया जा रहा है। हम बात कर रहे हैं, हरिहरपुर ओपी क्षेत्र अंतर्गत ग्रामपंचायत- डुमरसोता की।

बता दें कि डुमरसोता विद्यालय के शिक्षक- गोविंद राम व एसएमसी अध्यक्ष- निर्मल विश्वकर्मा द्वारा स्कूली बच्चों को चावल व पैसे का वितरण किया गया। एक ही स्थान पर वितरण के दौरान बच्चों सहित ग्रामीणों का भी हुजूम उमड़ पड़ा।

वितरण के क्रम में सोशल डिस्टनसिंग का कोई ध्यान नहीं रखा गया। जबकि स्कूली बच्चों के घर-घर जाकर वितरण किया जाना था।

तस्वीर में साफ-साफ देखा जा सकता है कि शिक्षक- गोविंद राम एक कुर्सी पर बैठ कर भीड़ इकठ्ठा किए हुए नजर आ रहे हैं। जबकि शिक्षा विभाग के द्वारा भी निर्देश दिया गया है कि बच्चों को एक स्थान पर भीड़ इकठ्ठा न किया जाए। अशिक्षित को क्या कहना,जब शिक्षित हीं सरकार के निर्देश व लॉक डाउन की धज्जियां उड़ा रहे हैं। शिक्षक- गोविंद राम व अध्यक्ष- निर्मल विश्वकर्मा ने स्कूली बच्चों के घर-घर जाने से कतराते हुए लॉक डाउन का अनुपालन किया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त गांव निवासी- भगवान मेहता के आवास पर बच्चों के बीच चावल व पैसे का वितरण किया जा रहा था। इस सम्बंध में बीईओ- राकेश से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि इस प्रकार हुजूम लगा कर, चावल व पैसे का वितरण नहीं किया जाना है। यदि ऐसा हुआ तो लॉक डाउन का अनुपालन करने वाले दोषियों पर सख्त कार्यवाई की जाएगी। सरकार के निर्देश व लॉक डाउन के अनुपालन करने वाले दोषियों पर कार्यवाई होती है या नहीं। इस अनुपालन पर पदाधिकारीगण संज्ञान लेते हैं या नहीं। यह भी देखना दिलचस्प ही होगा।

रविन्द्र मेहता,विजमल मेहता,धीरेंद्र विश्वकर्मा,विशाल कुमार,ऋषि मुनीमोहन साह,अशोक मेहता, सुमेर मेहता,धनजंय प्रजापति,अजीत मेहता सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

वहीं कुछ बच्चों को चावल व पैसे मिल रहे हैं,जबकि कुछ को एकाउंट में भेजने के लिए बोला गया। उपस्थित लोगों ने इसका विरोध भी किया।

Please follow and like us: